ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
अनुशासित सेवा भावी युवा राष्ट्र का गौरव: राज्यपाल श्री टंडन
February 3, 2020 • Admin

राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने कहा है कि नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी) और राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के सदस्य नये भारत के शिल्पकार हैं। ऐसे अनुशासित सेवा भावी युवा राष्ट्र का गौरव हैं। श्री टंडन गणतंत्र दिवस 2020 की परेड में शामिल एन.सी.सी. और एन.एस.एस. के केडिट्स के राजभवन में आयोजित स्वागत समारोह को संबोधित कर रहे थे।

एन.सी.सी. केडिट्स ने राज्यपाल को शिल्प मॉडल के स्मृति-चिन्ह भेंट किये। केडिट्स राजभवन के सांदीपनि सभागार में एन.सी.सी. और एन.एस.एस. के सदस्यों ने आकर्षक सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ दी। 'नमामि गंगे', बैले “हमें चले वसुंधरा सुधार दे” और 'मालवा का म्हारों' समूह नृत्य और सामूहिक गीत “ले तलवारें बढ़ा कदम” की प्रस्तुतियां आकर्षण का केन्द्र रहीं।

अतिरिक्त महानिदेशक एन.सी.सी. एम.पी.सी.जी. मेजर जनरल श्री संजय शर्मा ने बताया कि 408 कॉलेज और 821 स्कूलों में 1 लाख से अधिक युवा कैडेट हैं। इनमें 30 प्रतिशत बालिकाएँ है। उन्होंने बताया कि गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में 121 कैडेटों ने भाग लिया, जिनमें 4 कैडेट ने गार्ड ऑफ ऑनर, 10 कैडेट ने राजपथ परेड, 2 कैडेट ने प्रेरणादायी उद्बोधन और एक कैडेट ने प्रधानमंत्री निवास के सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लिया। राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य प्रमुख श्री आर.के. विजय ने बताया कि प्रदेश में टेन-प्लस-टू और कॉलेजों में 153 हजार विद्यार्थी शामिल हैं।