ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
बच्चों को स्वस्थ्य रखने के लिये गुणवत्तापूर्ण स्वच्छ भोजन जरूरी - मुख्यमंत्री
February 21, 2020 • Admin • Madhy Pradesh

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने छिंदवाड़ा जिले के भरतादेव चंदनगाँव में प्रदेश के पहले केन्द्रीयकृत रसोई घर 'अक्षय पात्र मेगा किचन' का भूमि-पूजन करते हुए कहा कि बच्चों को स्वस्थ्य रखने के लिये गुणवत्तापूर्ण स्वच्छ भोजन पहली आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा देश में लगभग 19 लाख बच्चों को गुणवत्तापूर्ण और स्वच्छ भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। मध्यप्रदेश में छिंदवाड़ा से इस व्यवस्था की शुरूआत हुई है। श्री कमल नाथ ने कहा कि दूसरे अक्षय पात्र मेगा किचन की आधारशिला भोपाल में रखी जाएगी।

श्री कमल नाथ ने कहा कि अक्षय पात्र फाउंडेशन का पहले केवल नाम सुना था, उनके काम के बारे में नहीं जानता था। जब एचईजी लिमिटेड के अध्यक्ष श्री रवि झुनझुनवाला और अक्षय पात्र फाउंडेशन के चेयरमेन श्री मधु पंडित दास से मिले, उनके साथ मैने बैठक की और उनके काम की बारिकी तथा बच्चों के प्रति उनके सेवा भाव को समझा, तब मैने सबसे पहले छिंदवाड़ा से इसकी शुरूआत करने का निश्चय किया। श्री कमल नाथ ने उम्मीद जताई की अक्षय पात्र मेगा किचन छिंदवाड़ा जिले के बच्चों के लिये गुणवत्तापूर्ण स्वच्छ भोजन की आवश्यकता की पूर्ति करेगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि फाउंडेशन द्वारा छिंदवाड़ा जिले में अपने विभिन्न संस्थानों की स्थापना की पहल की जाएगी जिससे जिले में समाज के हर वर्ग का उत्थान सुनिश्चित होगा।

सांसद श्री नकुल नाथ ने कहा कि भारत विकासशील देश कहा जाता है लेकिन यहां बच्चों की मृत्यु और कुपोषण हमेशा से चिंता का विषय रहा है। उन्होंने कहा कि इसका सबसे बड़ा कारण पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाना है। श्री नकुल नाथ ने उम्मीद जताई की छिंदवाड़ा का कोई भी बच्चा सुपोषण से वंचित नहीं रहेगा।

जिले के प्रभारी लोक स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे और अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। अक्षय पात्र मेगा किचन का भूमि-पूजन वैदिक विधि-विधान से मंत्रोच्चारण के साथ हुआ। फाउंडेशन के चेयरमेन श्री दास ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट किया। मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथियों ने स्कूली बच्चों के साथ बैठकर भोजन किया।

प्रतिदिन 116 शासकीय स्कूलों के 7,000 विद्यार्थी होंगे लाभान्वित

अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा संचालित किये जाने वाले इस रसोई घर के माध्यम से प्रथम चरण में आगामी शिक्षा सत्र से छिंदवाड़ा जिले के 116 शासकीय, प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं के लगभग 7,000 विद्यार्थी प्रतिदिन लाभान्वित होंगे। दूसरे चरण में 6 माह के भीतर 15,000 से अधिक विद्यार्थियों को इस रसोई के माध्यम से उत्तम गुणवत्ता का स्वादिष्ट और गर्म मध्यांह भोजन वितरित किया जाएगा।

अक्षय पात्र फाउंडेशन वर्तमान में 12 राज्यों में 51 केन्द्रों के माध्यम से प्रतिदिन लगभग 13,800 से अधिक स्कूलों के लगभग 19 लाख विद्यार्थियों को मध्यान्ह भोजन प्रदान कर रहा है।