ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
गुजरात में फिर आरक्षण आंदोलन की सुगबुहागट
January 31, 2020 • Admin

(जी.एन.एस) ता. 28
अहमदाबाद
गुजरात में एक बार फिर आरक्षण आंदोलन की सुगबुहागट शुरू हो गई है। लोकरक्षक दल की भर्ती प्रक्रिया मामले में मालधारी समुदाय के लोग पिछले 40 दिनों से आंदोलन पर बैठे हुए हैं। वहीं, अब राज्य के कोली समुदाय के लोग भी आरक्षण के लिए सरकार के खिलाफ आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं। गुजरात सरकार के मंत्री व कोली समुदाय के अग्रणी कुंवरजी बावलिया ने भी इसका समर्थन किया है।
गुजरात में लोकरक्ष दल की भर्ती प्रक्रिया में अनियमितता को लेकर मालधारी समुदाय की महिलाएं राजधानी गांधीनगर में पिछले 40 दिनों से आंदोलन कर रही हैं। उनके इस आंदोलन को गुजरात सरकार के ही सांसदों व विधायकों का समर्थन मिला है। गुजरात भाजपा के सांसद परबत पटेल, सांसद पूनम माडम, राज्यसभा के सदस्य जुगलजी ठाकोर, सांसद किरीट सोलंकी सहित कई विधायकों ने मालधारी समुदाय के आंदोलन का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को पत्र लिखा है। इस बीच, अब कोली समुदाय ने भी उनके समुदाय के लिए आरक्षण की मांग करते हुए आंदोलन करने की धमकी दी है।
गुजरात के कोली समुदाय के अग्रणियों की अहमदाबाद सर्किट हाउस में एक बैठक हुई। बैठक के बाद कोली समुदाय के अग्रणियों ने कहा कि लोकरक्षक दल की भर्ती प्रक्रिया में ओबीसी के उम्मीदवारों से अन्याय हुआ है। ओबीसी को आरक्षण लाभ मिलना चाहिए। कोली समुदाय के अग्रणियों ने कहा कि बैठक में गुजरात के कांग्रेस-भाजपा के कई विधायक शामिल थे। गुजरात सरकार के मंत्री कुंवरजी बावलिया ने भी इसका समर्थन किया है। अग्रणियों ने कहा कि ओबीसी एकता मंत्र के बैनर तले आगामी दिनों में लोकरक्षक भर्ती प्रक्रिया में हुए अन्याय के खिलाफ तमाम जिला कार्यालय में आवेदन दिया जाएगा। इसके बाद आरक्षण आंदोलन की तैयारी की जाएगी। गौरतलब है कि राज्य में आरक्षण के समर्थन में बड़ा आंदोलन होने की संभावना है। वहीं, आरक्षण का विरोध करने के लिए गैर आरक्षित समुदाय के लोग बैठक भी कर रहे हैं। ऐसे में आरक्षण के समर्थक-विरोधियों में भी टकराव की स्थिति पैदा हो सकती है।