ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
खजुराहो एयरपोर्ट पर कोरोना के संदिग्ध
March 5, 2020 • Admin • Madhy Pradesh

इटली के सैलानी पहुंचे थे खजुराहो 
चौकस इंतजाम साथ नौगांव के टीबी अस्पताल में भर्ती

छतरपुर/ खजुराहो के एयरपोर्ट पर बुधवार को  कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मरीजों को जांच के लिए रोका गया है। इटली से आए 10 सैलानियों के एक समूह में से दो लोगों को कोरोना वायरस जैसे लक्षण नजर आ रहे थे। खजुराहो एयरपोर्ट पर मेडिकल ऑफिसर की देखरेख में चल रही मरीजों की स्क्रीनिंग के दौरान कोरोना जैसे लक्षण नजर आने पर दोनों पर्यटकों को सुरक्षा की दृष्टि से रोक लिया गया है।

उक्त दोनों पर्यटकों को एक एंबुलेंस के माध्यम से पहले जिला अस्पताल लाया गया और इसके बाद सीएमएचओ डॉ. विजय पथौरिया के नए निर्देशों के तहत इन्हें नौगांव के टीबी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में दाखिल करा दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोनों संदिग्धों के खून के सेम्पल लेकर सागर मेडिकल कॉलेज भेजे हैं जहां से इन्हें पूना की लैब में भेजा जाएगा। रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि उक्त पर्यटकों को कोरोना वायरस का अटैक है या फिर साधारण निमोनिया। बहरहाल कोरोना वायरस के संदिग्धों के मिलने की खबर से छतरपुर जिले में भी कोरोना को लेकर दहशत फैल गई है।
बमीठा में खराब हो गई एंबुलेंस, अस्पताल के टॉयलेट मिले गंदे
खजुराहो घूमने आए इटली के सैलानियों के एक समूह में से एक महिला एवं पुरूष को खांसी और सर्दी जुकाम जैसी स्थितियों से जूझना पड़ रहा था। जब ये खजुराहो एयरपोर्ट पर उतरे तो यहां पहले से तैनात मेडिकल ऑफिसर ने इनसे पूछताछ की और इनकी बीमारी से जुड़े लक्षण पूछे। इसके बाद उक्त दोनों मरीजों को एहतियात के तौर पर जांच के लिए रोक लिया गया है। पहले इन्हें खजुराहो एयरपोर्ट से जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में लाया जा रहा था। खजुराहो से जिस एंबुलेंस के माध्यम से इन पर्यटकों को छतरपुर लाया जा रहा था वह एंबुलेंस बमीठा के पास खराब हो गई। इसके बाद पर्यटकों को एक ट्रेवल एजेंसी की गाड़ी के माध्यम से जिला अस्पताल लाया गया। पहले इन पर्यटकों को जिला अस्पताल के ही आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कराने की योजना थी इसलिए उक्त मरीज अस्पताल की पुरानी बर्न यूनिट में बनाए गए आईसोलेशन वार्ड में ले जाये जाने लगे, जब एक पर्यटक को टॉयलेट जाने की इच्छा हुई तो उसने यहां की गंदगी देखकर टॉयलेट जाने से मना कर दिया। बाद में इन मरीजों को नए निर्देशों के तहत नौगांव के टीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उक्त अस्पताल को पूर्णत: खाली कराते हुए एक आईसोलेशन वार्ड के रूप में तब्दील कर दिया गया है।
जिला अस्पताल में बनाया गया विशेष वार्ड
देश में अब तक 28 कोरोना मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। यह संख्या तेजी से बढ़ सकती है। खजुराहो में एयरपोर्ट होने के कारण भी सैलानियों की आवाजाही के चलते जिले में कोरोना के मामले सामने आने की आशंका जताई जा रही है। इसीलिए इस घातक वायरस से बचाव के लिए एहतियात के कदम उठाए जा रहे हैं। जिला अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग में मौजूद खाली पड़े बर्न वार्ड को कोरोना वायरस के मरीजों के लिए आईसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया गया है। डॉ. आरएस त्रिपाठी एवं जिला अस्पताल की टीम भी मास्क, गाउन के साथ इस वार्ड में उस वक्त तैनात नजर आयी जब दो संदिग्धों को जिला अस्पताल लाया जा रहा था।
नौगाव टीबी अस्पताल में अधिकारियो हुजूम 
जिला मुख्यालय से नौगाव टीबी अस्पताल में भर्ती कराये गए संदिग्धों को विशेष वार्ड में रखा गया। डॉक्टर की टीम के अलावा एसडीएम ,एसडीओपी ,जिले के तमाम अधिकारी उनकी देखरेख के लिए तैनात किये गए। सुरक्षा में चप्पे- चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात किये गए। वही जिस वार्ड में उन्हें भर्ती किया गया वहाँ परिंदा भी पर नहीं मार सका। 

इनका कहना-
जो संदिग्ध खजुराहो में पाए गए हैं उनका कहना है कि वे भारत आकर ही कुछ दिन पहले सर्दी जुकाम से बीमार हुए हैं। फिलहाल उनमें कोरोना जैसे कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं फिर भी इस मामले में एहतियातन सुरक्षा के सारे कदम उठाए जा रहे हैं।
डॉ. विजय पथौरिया, सीएमएचओ, छतरपुर