ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
मंत्रियों के सामूहिक त्यागपत्र, स्वार्थ की राजनीति का परिणाम
March 10, 2020 • Admin • Madhy Pradesh

भोपाल । प्रदेश में अब कांग्रेेेस  का सियासी  घमासान  युद्ध अब ठंडा पड़ता दिखाई दे रहा है। देर रात्रि को मुख्यमंत्री ने मंत्रियों की बैठक बुलाई ओर सभी मंत्रियों ने सामूहिक रूप से इस्तीफे सौंप दिए। यह प्रदेश की राजनीति में पहली बार हो रहा है जहां पर सिर्फ अपने स्वार्थ के चलते 15 साल बाद बानी कांग्रेस की सरकार को अधर में लटकाने पर मजबूर कर दिया है। यह बड़े ही अफसोस कि वात है ।  मुख्यमंत्री  कमल नाथ की अध्यक्षता में आज मुख्यमंत्री निवास पर हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मंत्रियों ने अपने सामूहिक त्यागपत्र मुख्यमंत्री को सौंपें। मंत्रियों ने  मुख्यमंत्री से मंत्रिमंडल का पुनर्गठन करने का अनुरोध किया।

क्या इतने स्वार्थी  हो गए हैं राजनेता

राजनीति में स्वार्थी होना लाजमी है लेकिन इतना भी नहीं होना चाहिए कि प्रदेश की जनता कोशने को मजबूर हो जाये। आज यही स्थिति प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में हो रहा है। कांग्रेस में वरिष्ठ नेतृत्व सिर्फ अपनी सियासी दाव पेच में सफल होता दिख रहा है। हो भी क्यों नहीं उनके समर्थक विधायक अधिक हैं ।यहां पर सिर्फ अपने वर्चस्व के चलते जनता को धोखा दिया जा रहा है। जिस जनता ने इन्हें 15 साल बाद  सत्ता में वापसी करवाई। प्रदेश में जनता की अनेकों समस्याएं हैं उनके  निदान की कोई नहीं सोच रहा।