ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
सरकार ने जारी की 31 लैब की लिस्ट, यहां करा सकते हैं कोरोना की जांच
March 7, 2020 • Admin • National

  • दिल्ली में मिला एक और पॉजिटिव केस
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी
  • सरकार ने जांच के लिए बनाए 31 लैब

देशभर में कोरोना वायरस से पीड़ितों की संख्या अब 31 हो गई है. कोरोना को लेकर पूरा देश अलर्ट पर है. अगर आप कोरोना वायरस का टेस्ट कराना चाहते हैं तो इन 31 लैबोरेटरी में परीक्षण करा सकते हैं. सरकार ने लैबोरेटरी की लिस्ट जारी कर दी है. 13 लैबोरेटरी में पहले से टेस्ट किया जा रहा था, जबकि 18 लैबोरेटरी में जांच की सुविधा आज से शुरू की गई है.

सरकार की ओर से जारी लिस्ट के मुताबिक, दिल्ली के एम्स, लखनऊ के केजीएमयू, जयपुर के एसएमएस, कोलकाता के एनआईसीईडी, गुवाहाटी के जीएमटी, नागपुर के आईजीजीएमसी, मुंबई के कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, अहमदाबाद के बीजे मेडिक कॉलेज, सिकंदराबाद के गांधी मेडिकल कॉलेज, बेंगलुरू के बीएमसीआरआई और एनआईवी फिल्ड यूनिट, चेन्नई के केआईपीएमआर और अलापुज्जहा के एनआईवी फिल्ड यूनिट में जांच की सुविधा है.

सरकार ने जारी की लैब लिस्ट

इसके अलावा आज यानी 6 मार्च से श्रीनगर के एसकेआईएमएस, जम्मू के जीएमसी, चंडीगढ़ के पीजीआईएमईआर, जोधपुर के एसएनएमसी, पटना के आरएमआरआईएस, डिब्रूगढ़ के आरएमआरसी, अगरतला के जीएमसी, भुवनेश्वर के आरएमआरसी, रायपुर एम्म, भोपाल एम्स, जबलपुर एनआईआरटीएच, तिरुपति के एसवीआईएमएस, पुडुचेरी के आईआईपीएमईआर, अमृतसर के जीएमसी, वाराणसी के आईएमएस बीएचयू, हल्दवानी के जीएमसी, जामनगर के एमपी शाह और थेनी के जीएमसी में भी जांच की सुविधा शुरू हो गई है.

दिल्ली में मिला एक और पीड़ित

दिल्ली में एक और मरीज को कोरोना हो गया है. ये शख्स मलेशिया और थाइलैंड कीयात्रा कर चुका है. मुमकिन है तभी संक्रमित होकर लौटा हो. ये मरीज उत्तम नगर का है. इस तरह देश में संक्रमित लोगों की तादाद 31 हो गई है. इसमें से तीन ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं, जबकि 16 इटली के नागरिक हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी की है कि लोग भीड़ भरे आयोजनों में जाने से बचें और ऐसे आयोजन टाले जाएं जब तक कि हालात काबू नहीं हो जाते. राज्यों से कहा गया है कि ज्यादा लोगों की मौजूदगी वाले आयोजनों के लिए एहतियात के उपायों के बारे में जागरूकता लाए.