ALL National World Madhy Pradesh Education / Employment Entertainment Sports Article Business
वित्त मंत्री मनप्रीत बादल का घेराव करने पहुंचे अकाली
February 29, 2020 • Admin

पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल आज विधानसभा में 2020-21 का बजट पेश करेंगे। वहीं अकाली दल की तरफ से मनप्रीत बादल के घर का घेराव कर प्रदर्शन किया जा रहा है। इस प्रदर्शन में खुदकुशी कर चुके किसानों के पीड़ित परिवार भी शामिल है, जिसका समर्थन अकाली दल द्वारा किया जा रहा है। इस दौरान पुलिस और अकाली विधायकों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। मौके पर अकाली विधायक बिक्रम मजीठिया और शरणजीत ढिल्लो को उठा ले गई। वहीं पंजाब विधानसभा की कार्रवाई 20 मिनट के लिए स्थगित किया गया है। गौरतलब है कि अगले माह 17 मार्च को कैप्टन सरकार के 3 साल पूरे होने वाले है और सरकार अपने किए गए वायदों को पूरी तरह से अमल में नहीं ला पाई है, जिसके चलते बजट सत्र के दौरान आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल सरकार के प्रति अक्रामक रूख अपनाए हुए है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने घर- घर नौकरी का नारा देकर वादा किया था कि हर साल 1.61 लाख लोगों को नौकरियां देगी। यह भी कहा गया था कि जब तक नौकरी नहीं मिलती तब तक 2500 रुपए बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। इसके लिए सरकार ने कई जिलों में रोजगार मेले लगाए मगर नौकरी दिलाने के लक्ष्य को भेद नहीं पाई। माली हालत के कारण सरकार बेरोजगारों को वादे के मुताबिक बेरोजगारी भत्ता देने में भी असमर्थ है। चुनाव के दौरान स्मार्टफोन देने का वादा करते हुए कांग्रेस ने युवाओं से फॉर्म भरवाए थे अब तक उनमें से किसी को भी फोन नहीं मिला है। 2017 के बजट में पैसा रखने के बावजूद अब तक स्मार्टफोन नहीं मिले। देश के लोकतंत्र से वाकिफ प्रदेश के युवा भी शायद इसकी उम्मीद छोड़ चुके हैं। अब ऐसा मान लिया जाए कि कैप्टन ने सत्ता में आने से पहले युवाओं के वोट बैंक को हासिल करने के लिए झूठ का सहारा लिया था।